पचमढ़ी सतपुड़ा पर्वत की रानी हिंदी में । pachmarhi hill station

Spread the love

पचमढ़ी सतपुड़ा पर्वत की रानी | पचमढ़ी मध्य प्रदेश | Pachmarhi hill station in MP | Pachmarhi best time to visit | Pachmarhi distance | Pachmarhi Madhya Pradesh

• दोस्तों हम आपको इस ब्लॉग में पचमढ़ी हिल स्टेशन के बारे में सब कुछ जानकारी देंगे पचमढ़ी कैसे पहुंचे पचमढ़ी में घूमने की जगह है पचमढ़ी जाने का बेस्ट टाइम यह सब हम जानकारी आपको इस ब्लॉग में देंगे।pachmarhi hill station

• पचमढ़ी – पचमढ़ी यह भारत के मध्य प्रदेश राज्य में स्थित एक हिल स्टेशन है। पचमढ़ी यह सातपुड पर्वत में एक हिल स्टेशन है इसे सतपुड़ा कि रानी भी कहते हैं। पचमढ़ी की समुद्र तल से ऊंचाई 1067 मीटर है। मध्य प्रदेश का सबसे ऊंचा शिखर धूपगढ़ 1352 मीटर यहीं पर स्थित है।
• pachmarhi – pachmadhi yah Bharat ke Madhya Pradesh rajya mein sthit hill station hai Pachmarhi to Satpura parvat mein Akhilesh station hai ise satpuda ki Rani bhi kahate Hain Pachmarhi ki samudra tal se unchai 1067 mitar hai Madhya Pradesh ka Sabse uncha Shikhar dhoopgarh 1352 metre yahan per sthit hai.pachmarhi hill station

• पचमढ़ी कैसे पहुंचे | how to reach Pachmarhi hill station

पचमढ़ी भोपाल से 204 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है भोपाल से रोजाना यहां पर बसें चलती हैं। पचमढ़ी एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल होने के कारण यह सभी माध्यम से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है यहां किसी भी मार्ग द्वारा पहुंचना काफी आसान है।pachmarhi hill station
• सड़क मार्ग – पचमढ़ी मध्य प्रदेश के किसी भी बड़े शहर से टैक्सी या बस द्वारा आप यहां पहुंच सकते हैं।
• रेल मार्ग – पचमढ़ी यह मुंबई हावड़ा रेल मार्ग इटारसी और जबलपुर के पिपरिया सबसे पास स्टेशन है ।
• हवाई मार्ग – यहां का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट भोपाल एयरपोर्ट है भोपाल से रोजाना भारत के बड़े शहरों से उड़ाने मौजूद है।

• Pachmarhi kaise pahunche how to reach Pachmarhi –

Pachmarhi Bhopal se 204 kilometre ki duri per sthit hai Bhopal se rojana yahan per bus chalti hai Pachmarhi ek Rog lokpriya paryatan Sthal hone ke Karan yah sabhi madhyam se acchi tarah se juda hua hai yahan kisi bhi Marg dwara pahunch na kafi asan hai.

• Sadak Marg – Pachmarhi Madhya Pradesh ke kisi bhi bade Shahar se taccia bus dwara aasani se aap pahunch sakte hain. pachmarhi hill station.

• rail marg – pachmadhi yah Mumbai Howrah rail marg Itarsi aur Jabalpur ke pipriya sabse paas railway station hai.

• hawai Marg – yahan ka sabse nazdiki airport Bhopal airport hai Bhopal se rojana Bharat ke har bade Shahar se udane maujud Hain. pachmarhi hill station


पचमढ़ी में घूमने की जगह | पचमढ़ी जाने का अच्छा टाइम | Pachmarhi | best time to visit Pachmarhi

• यह सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान में स्थित है सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान को 1981 में बनाया गया था सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान का क्षेत्रफल 524 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है यह पूरा प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है यहां रुकने के लिए उद्यान के निर्देशक से अनुमति लेना जरूरी होती है। pachmarhi hill station.
• प्रियदर्शनी प्वाइंट – यहां से सूर्यास्त का दृश्य बहुत ही सुंदर होता है यह तीन पहाड़ी सीकर पास में चोरा देव बीच में महादेव और दाएं और धूपगढ़ दिखाई देते हैं मैं सबसे ऊंची यानी मध्य प्रदेश की सबसे ऊंची चोटी धूपगढ़ है।
• रजत प्रताप – रजत प्रताप यह अप्सरा विहार से तकरीबन 1 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है आपको यहां से 350 फुट की ऊंचाई से गिरता झरना एकदम दूधिया चांद की तरह दिखता है यह काफी प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है।

• बी फॉल – बी फॉल यह जमुना प्रताप के नाम से भी जाना जाता है यह नगर से 3 किलोमीटर दूर स्थित है यहां काफी सारे लोग पिकनिक मनाने के लिए आते हैं और यह एक आदर्श है जगह भी है। pachmarhi hill station.

• हांडी खोह यह एक खाई है यह पचमढ़ी की सबसे बड़ी और गहरी खाई है जो 300 फीट गहरी है यह पूरे घने जंगलों से ढकी हुई है और यहां सिर्फ आपको पानी बहता हुआ और उसकी आवाज सुनाई देती है जो बहुत ही सुकून दायक लगती है यहां पर जंगल इतना करना है कि आपको यहां पानी भी दिखाई नहीं देता। pachmarhi hill station.

• जटाशंकर की गुफा – यह एक मध्यप्रदेश की बहुत ही पवित्र गुफा है जो पचमढ़ी से 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहां तक पहुंचने के लिए आपको कुछ थोड़ी दूर दूर तक चलना पड़ता है। इस मौसम में मंदिर शिवलिंग प्राकृतिक रूप से बना हुआ है यहां एक चट्टान है और इस चट्टान पर हनुमान जी की मूर्ति एक मंदिर में स्थित है और पास में ही एक हार पर की गुफा भी है। pachmarhi hill station.

• पांडव गुफा यहां की जो गुफा है महाभारत काल की माने जाने वाली 5 गुफाएं हैं जिनमें द्रोपदी कोटरी और भीम कोटरी सबसे प्रमुख है ऐसा माना जाता है कि यह गुफाएं गुप्त काल की हैं जिन्हें बौद्ध भिक्षु ने बनवाया था।


• Pachmarhi hill station best time to visit Pachmarhi tourist places –

• yah satpuda rashtriy udyan mein sthit hai yah satpuda rashtriy udyan ko 1981 mein banaya Gaya tha Satpura rashtriy udyan ka kshetrafal 524 varg metre pehla hua hai yah pura prakrutik Soundarya se bharpur hai yahan rukne ke liye udyan ke nirdeshak ke anumati Lena jaruri hoti hai. pachmarhi hill station.

• Priyadarshini point – yahan se Surya ka drishya bahut hi Sundar hota hai yah 3 pahadi Sikar pass mein Chauraha Dev bich mein Mahadev aur Dahej dhupgarh dikhai dete Hain sabse unchi yani Madhya Pradesh ki choti dhupgarh yahan per hai. pachmarhi hill station.

• Rajat Pratap – Raja Pratap vihar Sarai Bihar se takriban 1 kilometre ki duri per sthit hai aapko yahan se 350 ki foot ki unchai se girta Jharna ekadam dudhiya Chand ki tarah dikhta hai yah kafi prasiddh paryatak Sthal hai .

• b fall – bawaliya Jamuna Pratap ke naam se bhi Jana jata hai yah Nagar se 3 kilometre ki duri per sthit hai yahan kafi sare log picnic manane ke liye aate Hain aur yah ek Aadarsh jagah bhi hai. pachmarhi hill station.

• handi khoh – yah ek khai hai yah Pachmarhi ki Sabse badi aur gehri khai hai jo 300 feet gehri hai yah pure gane junglon se dekhi Hui hai yahan sirf aapko Pani bharta hua use aur uski awaaz sunai deti hai Jo bahut hi sukunda ek lagti hai yahan per Jungle itna gehra hai ki aapko yahan per Pani bhi dikhai nahin deta.

• jatashankar ki gufa – yah ek Madhya Pradesh ki bahut hi Pavitra gufa hai jo Pachmarhi se 2 kilometre ki duri per sthit hai yahan Tak pahunchne ke liye aapko kuchh dur Tak chalna padta hai is Mausam mein Mandir shivling Thakur ki group se Bana hua hai yahan ek chattan hai aur is chattan per Hanuman ji ki Murti ek Mandir mein sthit hai aur pass mein hi ek har per gufa bhi hai. pachmarhi hill station.

• Pandav gufa – yahan ki jo gufa hai Mahabharat kal ki Mane jaane wali 5 gufaon mein se hi din mein Draupadi Kothari aur Bheem Kota ki sabse Pramukh hi Aisa Mana jata hai ki yah gufayen Gupt kal ki hai jinhen baudh bhikshu ne banvaya tha. pachmarhi hill station.

• यदि आपको हमारा लिखा हुआ ब्लॉग पसंद आता है तो अपने दोस्तों तक इसे शेयर और फॉलो जरूर कीजिए।

Leave a Comment

x